कविता · Reading time: 1 minute

पुलवामा रणवीर नमन

हे वीर! तुम्हारा बलिदान,
सदा रहेगा याद हमें|
नमन हिन्दुस्तान करे,
सदा पुलवामा वीर तुम्हें||
आवाम सुरक्षित हे रणवीरो!
देश तुम्हारे ही बूते|
ताक़त हमारे देश की,
हिम्मत तुम्हारे बलबूते|
आन बान सम्मान शान,
तुम राष्ट्र का मान हो|
तुम विकास अनवरत रत,
तुम देश-गुमान हो||
शत् शत् नमन करे ‘मयंक’,
और यह फरियाद करे|
सदा ऊँचा रहे तिरंगा,
भारतवर्ष आबाद रहे||
✍ के.आर.परमाल ‘मयंक’

2 Likes · 2 Comments · 27 Views
Like
You may also like:
Loading...