पापा

(1)????
मै पापा की लाड़ली बेटी हूँ,
मैं पापा की जिन्दगी हूँ।
ये अजीब रिस्ता है ,
आज अपनी कल परायी हूँ।
????

(2)????
पापा होते सबसे खास,
रहते सदा दिल के आस-पास,
बिन बोले समझ जाते हर बात।
????—लक्ष्मी सिंह ?☺

—लक्ष्मी सिंह?☺

204 Views
MA B Ed (sanskrit) My published book is 'ehsason ka samundar' from 24by7 and is...
You may also like: