31.5k Members 51.8k Posts

पहली सुबह हो तुम

Apr 22, 2017 01:13 PM

सुना है, आकाश की पहली सुबह हो तुम,
आँखों का चमकता सितारा हो,
हम तुम्हे बस कहते है ज़िंदगी,
दुनिया कहती है, जीने का इशारा हो तुम,

ज़िंदगी जीने को करती मजबूर, ऐसी है,
आँखे तुम्हारी नूर के जैसी है,
झुक गया कदमो में तुम्हारे,
घुटनो से चलकर आना पड़ा, दुरी ऐसी है,

तेरे चेहरे में दुनिया भर के सितारे है,
तेरी आँखों में चमक ऐसी है,
मुस्कुराना पड़ा तुम्हे देखकर,
तनहा उनकी मुस्कराहट में लहर ऐसी है,

118 Views
Yash Tanha Shayar Hu
Yash Tanha Shayar Hu
New Delhi
66 Posts · 3.8k Views
‘‘तनहा शायर हूँ’’ | यश पाल सेजवाल ( जन्म 10 मार्च 1 9 80 ),...
You may also like: