कुण्डलिया · Reading time: 1 minute

“पर्यावरण”

रक्षित हो पर्यावरण,करना बस इक काम।
वृक्ष लगायें हर तरफ, ले के हरि का नाम।
ले के हरि का नाम ,वृक्ष हैं बहुत जरूरी।
होगा जाग्रत देश, कामना होगी पूरी।
कह प्रशांत कविराय,तभी हम बनें सुरक्षित।
लेकर के प्रण यार,करें तरूओ को रक्षित।

पेड़ लगायें जतन से,मिल जुलकर सब यार।
जिन पर निज जीवन टिका,टिका सकल संसार।
टिका सकल संसार,न उनको नाहक काटें।
वातावरण हो शुद्ध, ज्ञान यूँ सबको बाँटे।
कह प्रशांत कविराय,हृदय में भाव जगायें।
मिल जुलकर सब यार, जतन से पेड़ लगाये

प्रशांत शर्मा “सरल”
नरसिंहपुर
मो.9009594797

90 Views
Like
You may also like:
Loading...