परोपकार

दिशा दिशा से यही पुकार,
सबसे ऊपर है परोपकार,
करते भला तो होता भला,
भागती दूर सारी बुरी बला,
यही गाते है सब वेद पुराण,
मानव सेवा सबसे बड़ा प्रण,
सुख दुःख तो है सबके साथ,
सुखी वही जो मिलाता हाथ,
यह जीवन है अनमोल,
हर शब्द का हैं मोल,
यहाँ हैं अपनो से प्यारे मित्र
दिल मे बसता उनका चित्र,
।।।जेपीएल।।।

1494 Views
J P LOVEWANSHI, MA(HISTORY) ,MA (HINDI) & MSC (MATHS) , MA (POLITICAL SCIENCE) "कविता लिखना...
You may also like: