पटाखे नहीं जलाएँ

चायनीज और स्वदेशी का झंझट ही मिटाएँ
अबसे दीपावली पर पटाखे ही न जलाएँ
इस दिवाली पटाखे न जलाकर
गरीबों के घर दीपक जलाएँ
आओ सार्थक दीपावली मनाएँ
इस दिवाली व्यसन न करकर
गरीबों को मिठाई खिलाएँ
आओ सार्थक दीपावली मनाएँ
इस दिवाली चीनी सामान न लें
स्वदेशी वस्तुएँ ही घर लाएँ
आओ सार्थक दीपावली मनाएँ
अबसे दीपावली पर पटाखे ही न जलाएँ
आओ सार्थक दीपावली मनाएँ
इस दिवाली हर घर खुशियाँ लाएँ
घर आँगन खुशियों से भर दें
दीप दीप दीवाली कर दें

– नवीन कुमार जैन
बड़ामलहरा

Do you want to publish your book?

Sahityapedia's Book Publishing Package only in ₹ 9,990/-

  • Premium Quality
  • 50 Author copies
  • Sale on Amazon, Flipkart etc.
  • Monthly royalty payments

Click this link to know more- https://publish.sahityapedia.com/pricing

Whatsapp or call us at 9618066119 (Monday to Saturday, 9 AM to 9 PM)

*This is a limited time offer. GST extra.

Like Comment 0
Views 54

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share
Sahityapedia Publishing