Nov 18, 2020 · कविता
Reading time: 1 minute

*”पग चिन्ह “*

*पग चिन्ह*
घर आँगन देहरी पे जब पद चिन्ह बने ,
माँ लक्ष्मी जी का आगमन सुंदर चरण हर्षित मन।
छोटे छोटे चरण पड़े जब घर पर ,
अमन चैन सुखद सुहावन।
स्वार्थ सिद्धि विनायक गणपति संग ,
चरण पखारे रोली चंदन अक्षत ,फूलों की माला सुगंधित पुलकित मन।
अज्ञानता को दूर भगा ,ज्ञान की ज्योति जलाते अंतर्मन।
चरण स्पर्श कर पूजन वंदन ,आरती उतारे समर्पण तन मन धन।
आये शरण तिहारे माँ लक्ष्मी जी ,
दे दो सुख वैभव साक्षात दर्शन।
शुभ मंगल ज्योति जले ,आन विराजो पग छोटे मनभावन।
तमस कोरोना अंधकार मिटा ,सुख शांति अमन चैन।
*शशिकला व्यास*✍️

30 Views
Copy link to share
Shashi kala vyas
313 Posts · 17.3k Views
Follow 21 Followers
एक गृहिणी हूँ पर मुझे लिखने में बेहद रूचि रही है। हमेशा कुछ न कुछ... View full profile
You may also like: