.
Skip to content

न वो रात सवांरा करे

milan bhatnagar

milan bhatnagar

गीत

March 9, 2017

न वो रात सवारा करे
कोई चाँद से कह तो दे, न वो रात सवारा करे,
वो दूर हों ऐसे में, तो ये दिल, कैसे गवारा करे,
पलकों पे सुनहरे से सपने सज जाते हैं,
तन्हाइयों के बादल सारी रात रुलाते हैं,
कोई ख्वाबों में आकर के, मेरा चैन चुराया करे,
वो दूर हों ऐसे में, तो ये दिल, कैसे गवारा करे,
……….कोई चाँद से कह तो दे…..

आहाट सुन मेरी, साँसे रुक जातीं हैं,
आँखों में तेरी ही, सूरत बस जाती है,
कोई दिल में आ करके, धड़कन को जगाया करे,
वो दूर हों ऐसे में, तो ये, दिल कैसे गवारा करे,
……….कोई चाँद से कह तो दे…..

जुल्फों में तेरा चेहरा, चाँद सा लगता है,
अधरों पे तेरे मेरा,बस नाम सा लगता है,
मुस्काना तेरा मुझ पर, बिजली सा गिराया करे,
वो दूर हों ऐसे में, तो ये, दिल कैसे गवारा करे,
……….कोई चाँद से कह तो दे…..

आगोश में यादों की धड़कन खो जाती है,
मीठी मीठी दिल में तेरी आस जगाती है,
ये मस्त पवन आकर तेरा गीत सुनाया करे
वो दूर हों ऐसे में, तो ये, दिल कैसे गवारा करे,
……….कोई चाँद से कह तो दे…..

कोई चाँद से कह तो दे, न वो रात सवारा करे,
वो दूर हों ऐसे में, तो ये, दिल कैसे गवारा करे,
“मिलन ” १३/८/२०१५

Author
milan bhatnagar
बाल्यकाल से ही कविता, गीत, ग़ज़ल, और छंद रहित आधुनिक कविताएँ लिखना मेरा शौक रहा है कुछ गीतों को स्वर भी दिया गया है ! "गज़ल गीतिका" मेरा सम्पूर्ण संग्रह है
Recommended Posts
?पता कैसे करे?
?पता कैसे करे? कौन किसका कितना यहाँ पर ये पता कैसे करे,, कौन कितना बुरा यहाँ पर ये पता कैसे करे,, दर्द मेरा दर्द उसका... Read more
?करे?
?करे? मौन रहे लव उसके तो क्या नैनो से वो बात करे।। दूर रहे तो क्या दुरी है यादो में मुलाकात करे।। एक पल जीना... Read more
वो लड़कीं थी
इक अलबेली सबसे निरीली भोली भाली वो लडकी थी, चाँद के जैसा उसका मुखड़ा वो लड़की शर्मीली थी, तिरछी निगाहें पतली कमर बाल थे उसके... Read more
दिल
Versha Varshney गीत Mar 27, 2017
दिल रे तू काहे का सोच करे , वो निर्मोही प्यार न जाने , जिनको याद करे ।। दिल की राहें बड़ी ही तंगदिल ,... Read more