.
Skip to content

नोटबंदी – वरदान या अभिशाप

प्रदीप तिवारी 'धवल'

प्रदीप तिवारी 'धवल'

गज़ल/गीतिका

December 12, 2016

आम जन हूँ नोटबंदी ने सताया मोदी जी
तारीख दस है पर पगार न पाया मोदी जी,

मन की बातों को बिछाता,ओढ़ता,खाता रहा हूँ,
पेट में है गैस वादों की सवाया मोदी जी,

फट चुकी तकदीर पैरों में बिवाईयों की तरह
पंक्तियों को द्रौपदी की चीर पाया मोदी जी,

नित कमाना, खर्च करना, लेना-देना रोकड़ा में
कैशलेस का क्यों बड़ा सा भ्रम फैलाया मोदी जी

आप की निज ईमानदारी पे है शंशय ह्रदय में
किसकी खातिर ये कहर हमपे है ढाया मोदी जी,

कैशलेस फिर – फिर करेगा पोषित पूंजीवाद को ही
होगी बटुए से निकासी कमीशन में जाया मोदी जी,

गन्दा कपड़ा मांगता है, जो देश सफाई के लिए
ऐसे कार्यपालकों पर क्यों, भरोसा जताया मोदी जी,

गढ़ी छवि, है पिघलती तासीर से दिनमान की
पाप तो चिल्लाएगा गर है छिपाया मोदी जी

स्वास्थ्य,शिक्षा,सड़क,पानी की अदद एक चाह है
आपने तो व्यक्ति पूजा को है बढाया मोदी जी,

ना ‘धवल’ लाइन में आया न आप जैसे नेतागण
बेबस दुल्हन का बाप क्यों है मौत पाया मोदी जी

अनूठे इस प्रयोग में क्या क्या गँवाया मोदी जी
देश पर हो ईश का अब वरद साया मोदी जी
प्रदीप तिवारी ‘धवल’
9415381880,raghvendu1288@gmail.com

Author
प्रदीप तिवारी 'धवल'
मैं, प्रदीप तिवारी, कविता, ग़ज़ल, कहानी, गीत लिखता हूँ. मेरी दो पुस्तकें "चल हंसा वाही देस " अनामिका प्रकाशन, इलाहाबाद और "अगनित मोती" शिवांक प्रकाशन, दरियागंज, नई दिल्ली से प्रकाशित हो चुकी हैं. अगनित मोती को आप (amazon.in) पर भी... Read more
Recommended Posts
मोदी-मोदी
दूध से सफ़ेद बाल दूध सी सफ़ेद दाढ़ी ढक देते हैं "मोदी" जी आपके आधे चेहरे को लगता हो जैसे बादलों ने ढांक रखा हो... Read more
पिक्चर का आज टेलर दिखा दिया है मोदी जी
पिक्चर का आज टेलर दिखा दिया है मोदी जी दुश्मन को भी मजा आज चखा दिया है मोदी जी अब लगा है की दिल्ली की... Read more
नमन मोदी जी को
नमन मोदी जी को नमक की कीमत भी लोगो को सिखला दी नमन मोदी जी काले सफेद की अहमियत लोगों को बतला दी ********************************************* अब... Read more
पाकिस्तान की आतंकवादी लंका जला दो मोदी जी
पाकिस्तान की आतंकवादी लंका जला दो मोदी जी कराँची के सीने में अब बम फुड़वा दो मोदी जी कब तक खेल चलेगा खूनी विक्रम और... Read more