दोहे · Reading time: 1 minute

नीर सकोरा एक

गर्मी की ऋतु मे सभी ,करें काम ये नेक !
छज्जे पर अपने रखें , .नीर सकोरा एक !!

जीव जन्तुओं का नही,हो जाए अवसान !
इस पर देना चाहिए, .. हमे वाकई ध्यान !!

दूषित है जलवायु अब,हुआ नही अहसास !
बन जाएगी एक दिन,……गौरैया इतिहास !!
रमेश शर्मा.

1 Like · 32 Views
Like
510 Posts · 51.7k Views
You may also like:
Loading...