निशानियाँ

कुछ कुछ चीजों को,इबादत से रखा जाता है ।
कुछ कुछ चीजों को,नजाकत से रखा जाता है ।।
कुछ लोग होते है,जो यूनिक होते है दूनियाँ में ।
उनकी चीजों को हमेशा,हिफाजत से रखा जाता है ।।

जब तक मुलाकात होती है,बनती हैं कहानियाँ ।
कुछ खट्टी मीठी तकरारों की,प्यार भरी जुबानियाँ ।।
सन्जों के रखें हैं अपने बीते हुये हर लम्हें को हम ।
जिसे बाद याद दिलाएगी,आपकी दी हुई हर निशानियाँ ।।

Like Comment 0
Views 27

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share