31.5k Members 51.9k Posts

नशा……………३

नशा……………३

नशा इश्क का हो तो मुहबब्त से दामन जोडता है,
जुबान बंद होती है मगर नजरो से बहुत कुछ बोलता है
आबाद हुआ तो ठीक है, वरना इस बेरहम जमाने मे
लैला कोई मजनूँ बनके राहो मे पागलो सा डोलता है ।।




डी. के. निवातियॉ………… @

7 Views
डी. के. निवातिया
डी. के. निवातिया
224 Posts · 45.8k Views
नाम: डी. के. निवातिया पिता का नाम : श्री जयप्रकाश जन्म स्थान : मेरठ ,...
You may also like: