नमो नव दुर्गा

नमो नव दुर्गा,नमो नव ज्योति

घनाक्षरी छंद

भगवती भारत से भय का भगा दे भूत,
भयभीत भगत कोरोना के सताये हैं ।

दुष्ट निशाचर भारी,मार मार मार मैया,
काल घटा घिरी घर, पड़े घबड़ाए हैं ।

मोदी जी के मनन की, कोटि कोटि जनन की,
वायरस हनन की, ज्योति ये जलाये हैं ।

नौ बजे निशा में दीप नौ सजाये पूजन में,
नौ दुर्गा माता जी के चरण मनायें हैं ।

गुरू सक्सेना
नरसिंहपुर मध्यप्रदेश
6/4/2020

1 Like · 28 Views
You may also like: