दोहे · Reading time: 1 minute

दो सर्प दोहे

दो सर्प दोहे

जहर जहर व कहर कहर, सहज हर जिरह जिरह l
न करवट, न न तरस तरस, सहज सह विरह विरह ll

समझ समझ कर यह समझ, हरकत न गलत गलत l
तन मन धन कर कर सफल, रख नरम नरम नियत ll

अरविन्द व्यास “प्यास”

1 Like · 17 Views
Like
Author
परिचय नाम : अरविन्द व्यास "प्यास" पूर्ण नाम : अरविन्द कुमार लक्ष्मीनारायण व्यास पिता का नाम : लक्ष्मीनारायण व्यास जन्म तारीख व स्थान : ३ जून १९५२, कल्याण, महारास्ट्र इंजीनियरिंग…
You may also like:
Loading...