23.7k Members 50k Posts

दोहा मुक्तक

जाने कैसे हो गया, नर इतना बेशर्म।
मानवता को भूल के, जग में करे अधर्म।
करले मानव प्रेम से, सदाचार व्यवहार,
मानवता ही धर्म हो, मानवता ही कर्म।

3 Views
अभिनव मिश्र
अभिनव मिश्र"अदम्य
शाहजहांपुर,(उत्तर प्रदेश)
119 Posts · 702 Views
मैं शाहजहांपुर, (उत्तर प्रदेश) से हूँ। वर्तमान में नोयडा के एक प्राइवेट सेक्टर, में कार्यरत...
You may also like: