मुक्तक · Reading time: 1 minute

दुनिया कि सच्चाई

समय-समय पर लोगों के जज्बात बदल जाते हैं,

अब ईमान नहीं है, कहे गए वाक्यात बदल जाते हैं,

और अब तो समय ऐसा आ गया है इस दुनिया में

कि बाप के मरते ही वसीयत के कागजात बदल जाते हैं

2 Likes · 54 Views
Like
You may also like:
Loading...