23.7k Members 49.8k Posts

दीवाने दिल की दास्तां

?????????
?????????

यूं ही ना लगाना दिल कहीं दोस्तों,
इश्क की कदर लोग कहां करते हैं,
भूला देते हैं लोग फसाना समझ कर
और हम जैसे दीवाने आहें भरते हैं ॥

?प्रमोद रघुवंशी?
दिनांक -18-07-2016

Like Comment 0
Views 12

You must be logged in to post comments.

LoginCreate Account

Loading comments
Pramod Raghuwanshi
Pramod Raghuwanshi
Hoshangabad
13 Posts · 432 Views