दिल

दिल है ये…
दिल क्या तुम खीसे में रखते नहीं हो
दिल की बातों को क्या अकसरहां
समझते नहीं हो😜
बस लिय चलते हैं हम तो
सीने पे दिल बाजू पे दिल का अक्स,
क्या तुम कुछ भी समझते नहीं हो?
~ सिद्धार्थ

3 Likes · 1 Comment · 7 Views
मुझे लिखना और पढ़ना बेहद पसंद है ; तो क्यूँ न कुछ अलग किया जाय......
You may also like: