दिल्ली पर ताजा विचार

दिल्ली में जो पेश किया गया वो तो एक नजराना है ।
(वर्तमान में जो दिल्ली में स्मोग है )
इस पर भी बहुतों का अपना अपना बहाना है ।।
जब इस नजराने को सारे विश्व में प्रस्तुत किया जाएगा ।
क्या कोई अपने आपको इससे बचा पाएगा ?
कितने ही फिल्टर उपयोग कर लेना, कितने ही प्रयत्न कर लेना
कुछ भी काम ना आएगा ।
जब सारे विश्व में प्रकृति का प्रकोप छाएगा।।
– नवीन कुमार जैन

Like Comment 0
Views 16

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share
Sahityapedia Publishing