मुक्तक · Reading time: 1 minute

दिखने में खालिस सफेद हैं, काम सभी काले काले

दिखने में खालिस सफेद हैं, काम सभी काले काले कल तक तो वे पटियों पर थे, आज बने पैसे वाले राजनीति की गंगा में, उन्होंने जमकर स्नान किया
धो डाले हैं सभी पाप, दान पुण्य का लाभ लिया गुंडागर्दी लूट चोरियां, काम सब नंबर 2 के करते थे अच्छा खासा नाम था उनका, सब दूर दूर तक डरते थे अब तो वे माननीय हो गए, दोष दब गए सारे
हाथ जोड़ कर खड़े हैं सब, चलते हैं उनके इसारे हाईकमान के वरद हस्त से, उन्होंने अमृत पान किया राजनीति के चतुर खिलाड़ी, बनकर अपना नाम किया

सुरेश कुमार चतुर्वेदी

2 Likes · 2 Comments · 19 Views
Like
Author
मेरा परिचय ग्राम नटेरन, जिला विदिशा, अंचल मध्य प्रदेश भारतवर्ष का रहने वाला, मेरा नाम 'सुरेश' मेरे दादाजी 'श्री जगन्नाथ जी' , पिताजी 'श्री गणेश' मेरी दादी 'हरवो देवी' और…
You may also like:
Loading...