23.7k Members 49.9k Posts

दास

बैठे भूतल पर सदा,
तजि आसन की आस।
उदासीन को जगत में,
कौन बनावे दास।

बनते कभी न दास,
हृदय सुख- दुख से रीते।
पतझर या मधुमास,
एकसम उनके बीते।

पदच्युत खाये खार,
रहे खिसियाये ऐंठे।
देगा कौन उतार,
उन्हें जो भूतल बैठे।

संजय नारायण

4 Likes · 1 Comment · 111 Views
Sanjay Narayan
Sanjay Narayan
Mohammadi Kheri
202 Posts · 3.9k Views
सम्प्रति: Principal, Government Upper Primary School, Pasgawan Lakhimpur Kheri शिक्षा:- MSc गणित, MA in English,...