*दर्दे दिल*

❤❤❤❤❤❤❤❤❤
याद में उनकी ये दिल रो रहा है ।
प्यार का ऐसा असर हो रहा है ।।
दर्द ए दिल की इन्तेहाँ तो देखो ।
दर्द को अपने आंसुओं में पिरो रहा है ।।

जितना छुपाती हूँ उतना छलकता है ।
दर्द अब तो मेरी बातों में झलकता है ।।
कभी आंसू बनके आँखों से बहता है ।
कभी गुस्सा बन अपनों पर बरसता है ।।

कभी दिल रोकर गम को भुलाता है ।
कभी दिल हंसकर गम को छुपाता है ।।
कभी बन के उदासी चेहरे पर छाता है ।
कभी खुद में ही खो जाना चाहता है ।।

दिल का दर्द बस दिल ही समझ पाता है ।
कोई और ना दर्द महसूस कर पाता है ।।
दुआ करो मेरे दिल को मिल जाए राहत ।
दुआ का दर्द ए दिल से बड़ा गहरा नाता है ।।

याद उसको भी इस कदर तड़पाये मेरी ।
घायल उसको भी यादें कर जाएं मेरी ।।
काश दे दे दिल उसको रब का वास्ता ।
दिल जान से बन जाए वो जिंदगी मेरी ।।
💓💓💓💓💓💓💓💓💓💓💓

Like 6 Comment 2
Views 492

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share