23.7k Members 49.9k Posts

!! थोथा चना बाजे घना !!

शोहरत और धन दौलत पर
कत्ले आम हो रहा है,
आज जिधर को भी देखो
इंसान बस हैवान हो रहा है !!

छोटी छोटी बात पर
खूनी खेल , खेल रहा है
लहू में उबाल इतना
अंदर से कमजोर हो रहा है !!

ताकत अब अंदर कम है
दिमागी शैतान हो रहा है
हाथो में भी बल की कमी है
फिर भी मुंहजोर हो रहा है !!

चलती राह पर कर के छींटाकीशी
बेसंस्कार हो रहा है
जब हाथ आ जाता है किसी के
अपनी ही हरकत का शिकार हो रहा है !!

अजीत कुमार तलवार
मेरठ

1205 Views
गायक और लेखक अजीत कुमार तलवार
गायक और लेखक अजीत कुमार तलवार
मेरठ (उ.प्र.)
624 Posts · 39.1k Views
शिक्षा : एम्.ए (राजनीति शास्त्र), दवा कंपनी में एकाउंट्स मेनेजर, पूर्वज : अमृतसर से है,...