तेरे बिना

बेशक मेरा वक़्त तो कट जाता है तेरे बिना,

बस अब फ़र्क़ सिर्फ़ उतना है उस वक़्त तुम शामिल नही.

5 Likes · 5 Views
Nisha garg Own And Famous writer's poem, Shayari, Gajal, etc email I'd gargnisha718@gmail.com
You may also like: