कविता · Reading time: 1 minute

तेरे आने का गुमान

कुछ ऐसा हो
तेरे आने से कुछ पल पहले
तेरे आने का
गुमान हो जाए

फिर
तेरे आने का
किसी को भी
कुछ गुमान न हो

1 Like · 2 Comments · 27 Views
Like
5 Posts · 142 Views
You may also like:
Loading...