तेरी ऑखो में मेरी आॅखो को खो जाने दे , तेरी सॉसो में मेरी सॉसो को दफनाने दे ,

तेरी ऑखो में मेरी ऑखो को खो जाने दे ,
तेरी सॉसो में मेरी साॅसो को दफनाने दे ,
ऐ जालिम मुझे तु दिल में अपने बसा ले ,

और तेरे दिल में मुझे उतर जाने दे,
वो जो चाहता है उपरवाला ,

रूह को जिस्‍म में समाने दें ,
नही तु जानता है मुझे नही तु मानता है,
मेरे दिल में तु उतर जा और मुझे तेरे दिल में उतर जाने दे,
में तेरी यॉद में अपनी सुद बुद खो बैठा,

तु भी अपनी सुद बुद खोकर खुद को मेरे सपनों में खो जाने दें ,

तु मुझमें और में तुझमें दो जि स्‍म एक जान कहलाने दें,

तेरी ऑखो में मेरी ऑखो को खो जाने दे ,

तेरी सॉसो में मेरी सॉसो को दफनाने दे ,

भरत गेहलोत
जालोर राजस्‍थान
सम्‍पर्क 7742016184

1 Like · 120 Views
You may also like: