प्रमाण चाहिये

मुक्तक
उसको हर बात का जवाब चाहिये !
मेरे दिन और रात का हिसाब चाहिये!
चलना तो चाहूं हर कदम उसके साथ!
पर मेरे विश्वास का उसे प्रमाण चाहिए!!
– सोनिका मिश्रा

240 Views
मेरे शब्द एक प्रहार हैं, न कोई जीत न कोई हार हैं | डूब गए...
You may also like: