23.7k Members 50k Posts
Coming Soon: साहित्यपीडिया काव्य प्रतियोगिता

तू संग मेरे रहता है...

तेरे ख्यालों में…
गुजरने लगे हैं,
रात और दिन !
तू पास हो न हो, तू संग मेरे रहता है !!

तेरे दीदार को…
तरसने लगे हैं,
शामों-सहर !
तेरे इंतजार में, आँखों से मोती बहता है !!

लेते हैं करवटें…
ये सोच,
तुम्हें न सोचेंगे !
पर तेरी यादों का, बक्सा खुला ही रहता है !!

ख्वाहिशें सिसकें हैं…
दिल जलता है,
इक शमा की तरह !
जलूँ परवाने सी, अब दिल ये मुझसे कहता है ! !

तेरे ख्यालों में…
गुजरने लगे हैं,
रात और दिन !
तू पास हो न हो, तू संग मेरे रहता है !!

अंजु गुप्ता

17 Views
Anju Gupta
Anju Gupta
19 Posts · 401 Views
Am a management professional with 20 years of rich experience. Working as a softskill Trainer...
You may also like: