गज़ल/गीतिका · Reading time: 1 minute

तुम मेरे हो

दिल की धड़कन कहती है , प्यार तुम्हीं से करना है।
जीना तुम्हारी बाहों में, बाहों में तुम्हारी मरना है ।।
दुश्मन लाख जमाना हो, पर हमको अब न डरना है ।
म़जिल भी मिल जाएगी, बस साथ हमेशा चलना है ।।
तुम मेरे हो, मेरे ही रहोगे, बस तुमसे यही कहना है ।
दुनिया से चुराकर दिल में बसा लो, दिल में तेरे रहना है ।।
हर मुश्किल हम साथ सहेगे, साथ में हंसना रोना है ।
प्यार हमारा सच्चा है, बस एक-दूजे पे भरोसा करना है ।।
अपने प्यार के रंगों से, दुनिया तुम्हारी मुझे रंगना है ।
तुझको भी अब हर पल मेरे लिए, सजना और संवरना है ।।
तुम मेरे हो, मेरा जीवन हो, इन आंखों में तुम्हारा सपना है ।
हर चेहरा अब पराया लगता , बस तेरा चेहरा ही अपना है ।।

**** डां. अखिलेश बघेल ****
दतिया ( म. प्र. )

1 Like · 137 Views
Like
Author
57 Posts · 8.2k Views
B.A.M.S., M.A., M.PHIL(HINDI) याद कर तेरा चेहरा रात कट जाती है, तू नहीं आती मगर तेरी याद आती है । तेरी याद आते ही मेरी जान जाती है, तड़पता हूं…
You may also like:
Loading...