हाइकु · Reading time: 1 minute

तुम बसंत //हाइकु

सपने मेरी
[1]
सपने मेरी
ज़िन्दगी फुलवारी
तुम बसंत !!

[2]
पिया न आये
पनघट किनारे
नैन निहाँरे !!

[3]
सावन घटा
बरसे रिमझिम
पिया भी साथ !!

[4]
हमराही तू
मै बादल आवारा
चलूँगा साथ !!

[5]
तुम दर्पण
देखू सुबह शाम
करू श्रृंगार !!

44 Views
Like
You may also like:
Loading...