Jan 25, 2017 · शेर

तुम्हे

एक लम्तुहात गुजरने से पहले
इश्क के जज्बात मे पिघलने से पहले
न जाने ये ख्याल आया है ….
न तुम्हे पाया है न पाने का इरादा
पर तुझे खो न दूं ..डर सबसे ज्यादा है..

24 Views
साधारण सी ग्रहणी हूं ..इलाहाबाद युनिवर्सिटी से अंग्रेजी मे स्नातक हूं .बस भावनाओ मे भीगे...
You may also like: