तन्हा सफर

तन्हा होकर भी सफर करता हूं ।
सफर में रहकर हमसफ़र की तलाश करता हूं ।।
कुछ वक्त बीत जाए मुलाकातों में ।
कुछ ख्वाहिशों पूरी हो जाए चंद बातो में । ।
ऐसे कुछ सपने अपनी डियर डायरी में लिखता हूं ।
इसीलिए अक्सर तन्हा होकर भी सफर करता हूं ।
सफर में रहकर हमसफ़र की तलाश करता हूं ।।

1 Like · 15 Views
PRATIK JANGID
PRATIK JANGID
इंदौर
87 Posts · 4.8k Views
लेखक हूं या नहीं, नहीं जानता , हा पर चले आते है कुछ शब्द लबो...
You may also like: