Aug 20, 2016 · शेर
Reading time: 1 minute

तन्हाईयों का सूरज

मेरी तन्हाईयो का सूरज
कभी चढ़ता तो कभी डूबा जाता है
क्योंकि जिस पत्थर को लगती हैं अक्सर चोटें हजारों
उसे ही तो भगवान के दर्जे में पूजा जाता है

1 Comment · 24 Views
#21 Trending Author
कृष्ण मलिक अम्बाला हरियाणा एवं कवि एवं शायर एवं भावी लेखक आनंदित एवं जागृत करने... View full profile
You may also like: