लेख · Reading time: 1 minute

ज्योतिष..

ज्योतिष :-
आकाश में स्थित ज्योतिः पिण्डों के संचार एवं उनसे बनने वाले गणितागत पारस्परिक संबंधों के पृथ्वी पर पड़ने वाले प्रभाव का विश्लेषण करने वाली विद्या का नाम ज्योतिष शास्त्र है । जिस पर प्रकार से अंधेरे में रखी वस्तु को रोशनी के माध्यम से देखा जाता है उसी प्रकार से जन्म कुंडली के माध्यम से जीवन में होने वाले हर घटनाओं का आकलन किया जा सकता है ।

1 Like · 61 Views
Like
Author
शिक्षक व ज्योतिषाचार्य- ( ज्योतिष संबंधित लेख, जन्म कुंडली निर्माण, कुंडली के माध्यम से रोग निवारण के उपाय, अध्ययन, कार्य क्षेत्र चयन, विवाह...)
You may also like:
Loading...