जीवन साथी

जीवन साथी

जीवन का सबसे अनमोल रतन ,
जन्म से नाता न होकर भी
है कितना उसमें अपनापन ।
अपने सुख दुख जिससे बाँट सके
मन की उलझन सब सुलझा सके ,
जीवन के उतार चढ़ावों का
निज जीवन में आए तूफानों का
सिर्फ वही साक्षी है प्रत्यक्ष ।
जीवन का सबसे अनमोल रतन ।
ऐसा अनमोल उपहार है वो
जिस पर जरा आघात भी हो
वह आघात स्वयं पर लगता है
जब कुछ पल को भी वो
कहीं करे गमन ,
रिक्त हो जाते हैं ये
मन और सदन ।
जीवन का सबसे अनमोल रतन ।
चाहे कितना वाद विवाद करें
फिर भी एक दूजे से ही
फरियाद करें ,
ये ही एक ऐसा रिश्ता है
जिसने साथ निभाने को
लिए हैं अमूल्य सात वचन ।
जीवन का सबसे अनमोल रतन ।

डॉ रीता
आया नगर , नई दिल्ली- 47

Like Comment 0
Views 211

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share