जीत

हम जीतेगे
हर वो जंग
जो इंसानियत
के खिलाफ हो,
वो जंगल जीतेगा,
जिसमें आग
लगी थी,
वो इमारत भी
जीतेगी
जिसे बम
से उड़ाने की
साजिश थी,
वो नदी भी
जीतेगी
जो सूखती
जा रही है,
वो पेड़ भी
जीतेगा
जिन्हें काट
दिया गया,
वो आकाश
भी जीतेगा
जिसके बादल
पत्थर बरसा रहे हैं,
वो परिन्दा भी
जीतेगा
जो पिंजरे में
कैद है,
वो घरती भी
जीतेगी
जो सीमेंट कंकरीट
में बँध दी गयी है,
जब मानवता
जीतेगी
प्रकृति विश्वविजयी
होगी|
प्रिया खरे|
29/02/2020

2 Likes · 4 Comments · 14 Views
You may also like: