23.7k Members 50k Posts
Coming Soon: साहित्यपीडिया काव्य प्रतियोगिता

* जीओ ना तुम जरा जरा *

जब दिल उमंग से हो भरा ,
सब कुछ लागे हरा-भरा ।
जी लो जी भर के आज से ,
जीओ ना तुम जरा जरा ।।

दो दिन का मेला ये संसार ,
क्या लेकर जाना है मेरे यार ।
खुशियों के हैं रस्ते हजार ,
जीना सीख लो जो एक बार ।।

हर मन को प्यार से सींचो तुम ,
ना दर्द किसी को देना तुम ।
जीवन स्वर्ग ज्यों बन जाएगा ,
सबकी दुआएं ले लो तुम ।।

जीवन को यूँ ना करो बेकार
आगे बढ़ दिखाओ चमत्कार ।
खुशियां तुम्हारे कदम चूमेंगी ,
जीना सीख लिया जो इक बार ।।

4 Likes · 2 Comments · 517 Views
Neelam Ghanghas Ji
Neelam Ghanghas Ji
चंडीगढ़ हरियाणा
101 Posts · 61.6k Views
*Writer* & *Wellness Coach* ---------------------------------------------------- मकसद है मेरा कुछ कर गुजर जाना । मंजिल मिलेगी...
You may also like: