मुक्तक · Reading time: 1 minute

” जिनके खून पसीने से यह सारी दुनिया चलती है “

न्वादू********************************************
जिनके खून पसीने से यह सारी दुनिया चलती है ।

आज उन्हीं मजदूरों को यह सारी दुनिया छलती है ।

इनका हक़ अब इनको दे दो वरना सब पछताओगे ,

देख मिनारों को कुटिया में इनकी रूह सुलगती है ।
*******************************************
वीर पटेल

37 Views
Like
25 Posts · 2.4k Views
You may also like:
Loading...