कविता · Reading time: 2 minutes

जिंदगी एक परिभाषा या अनमोल सीख

जिंदगी एक परिभाषा या अनमोल सीख -जिंदगी एक सफर है सुहाना जीवन के कुछ पल खुशियों के हवाले जीवन के कुछ लम्हे गम के प्याले माना ख़ुशियों ओर गमों का कभी आना है कभी जान है कभी हंसना है अौर हंसाना है । पर ये पल संजोते हैं हर पल खुशियों को हमारे दामन में जो कभी प्यारी सी याद बनकर कभी प्यारी सी उम्मीद बनकर खिलती है औऱ कभी हमारी चिलमन में परिवर्तन सी जिंदगी हर मोड़ पर नये रंग दिखाती है ।कहीं अनजानों से मिलवाती है , अपनों से बिछुडाती है कभी हंसती और मुस्कुराती है और कभी अपने आंसुओ से फूलों को खिलाती है । जिंदगी एक तलाश है शायद कोई गहरा इतिहास या कोई अधुरी कहानी है पर इसकी अजब गजब सी जिंदगानी है । उम्मीद से अधिक बढ़कर हैं इसमें पर कुछ खोने का ग़म भी है यादें हैं फरियादे है कुछ बिगड़े बने रिश्ते नाते हैं । कहीं अनसुनी अनकही बातों का बोलता सुंदर पैमाना है कहीं किसी राह में कोई पत्थर खुदा का निराला दिवाना है ।नदियों की बहती कल कल कोयल की गूंजती कूक हमेशा हमें एक अलग सा मीठा अहसास देती है । कभी धूप तो कभी छाया एक अलग रूप है जिंदगी का । जो हमारे सांसों में महकती सी खुशबू भर देती है । आखिर में हौले हौले जुदा होकर हमें अनगिनत हसीन एवं खुशनुमा यादें दे जाती हैं । यादें जो हमारी जिघरी दोस्त होती हैं ;एक यादें ही तो हैैं जिनके सहारे हम ये खूबसूरत ज़िंदगी जीते हैं ।

3 Likes · 45 Views
Like
308 Posts · 11.6k Views
You may also like:
Loading...