जाड़े के मौसम मेँ अक्सर हैँ मचलती लड़कियाँ

आपके दिल मेँ हमेँ अपना ठिकाना चाहिए
एक बेघर पंछी को अब आशियाना चाहिए

जाड़े के मौसम मेँ अक्सर हैँ मचलती लड़कियाँ
बस इसी मौसम मेँ इनसे दिल लगाना चाहिए

देखो ,देखो, जा रही है अर्थी मेरे प्यार की
दोस्तोँ,अब आपको ताली बजाना चाहिए

रात मेँ जब सेज पर हाँथोँ की टूटे चूड़ियाँ
औरतोँ को धीरे-धीरे मुस्कुराना चाहिए

26 Views
नाम- सागर यादव 'जख्मी' जन्म- 15 अगस्त जन्म स्थान- नरायनपुर पिता का नाम-राम आसरे माता...
You may also like: