Skip to content

*** जज्बा देशभक्ति का ***

भूरचन्द जयपाल

भूरचन्द जयपाल

मुक्तक

January 8, 2017

जज़्बा देशभक्ति का बना रहे जवानों में

भय बना रहे सदा मुल्क के हैवानों में

खैरियत अपनी मना लो देश के दुश्मनों

आज भारत की शुमार है नोजवानों में ।।

सलाम इस धरती को सलाम आसमां को

सलाम इस देश के उन खेवनहारों को

बख्सी जां दूसरों की खुद खाक हो गये

स्वप्नसजाये हमारे और खुदराख़ हो गये।।
?मधुप बैरागी

Author
भूरचन्द जयपाल
मैं भूरचन्द जयपाल स्वैच्छिक सेवानिवृत - प्रधानाचार्य राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय, कानासर जिला -बीकानेर (राजस्थान) अपने उपनाम - मधुप बैरागी के नाम से विभिन्न विधाओं में स्वरुचि अनुसार लेखन करता हूं, जैसे - गीत,कविता ,ग़ज़ल,मुक्तक ,भजन,आलेख,स्वच्छन्द या छंदमुक्त रचना आदि... Read more
Recommended Posts
***** जज़्बा *****
************************* जज़्बा-ए-देशभक्ति का हम दिल में ले चले नेता है देश के ये जो नेता है देश के ********************** कहते हैं देश का हम उद्धार... Read more
देशभक्ति 24×7
मत दिखाओ देशभक्ति सिर्फ 15 अगस्त और 26 जनवरी को दिखाओ देशभक्ति हर पल दूर करने में गरीबी, अशिक्षा और भ्रष्टाचार को। मत जताओ देश... Read more
जश्ने आजादी
जश्ने आजादी ये कैसा जश्ने आजादी है, एक दिन की देशभक्ति है एक दिन का दिखावा है सन्देशों की तो बाढ है ड्राई डे होने... Read more
वीर सेनानी
सलाम है तुमपर शरहद के वीर सेनानी तुम्हारी जज़बो का लोहा सब ने मानी खेल के अपनी जानो पर तुम सब देश को है संभाली... Read more