.
Skip to content

जगह दिल में बनाना जानते है

आनंद बिहारी

आनंद बिहारी

गज़ल/गीतिका

September 10, 2016

जगह दिल में बनाना जानते है
याराना भी निभाना जानते हैं।1।

पूछो कुछ; बताते कुछ हैं यारों
फ़कत बातें बनाना जानते हैं।2।

कोई महफ़िल नहीं जिसमें नहीं वो
वो खुशबू है बताना जानते हैं।3।

कोई मुश्किल मुझे बस याद करना
रिश्ते दिल के निभाना जानते हैं।4।

है उनको हौसले पर ही भरोसा
वो दो रोटी…कमाना जानते हैं।5।

हजारों ग़म सितमगर ने दिए हैं
हवा में ग़म उड़ाना जानते हैं।6।

@आनंद बिहारी, चंडीगढ़
https://m.facebook.com/anandbiharilive

Author
आनंद बिहारी
गीत-ग़ज़लकार by Passion नाम: आनंद कुमार तिवारी सम्मान: विश्व हिंदी रचनाकार मंच से "काव्यश्री" सम्मान जन्म: 10 जुलाई 1976 को सारण (अब सिवान), बिहार में शिक्षा: B A (Hons), CAIIB (Financial Advising) लेखन विधा: गीत-गज़लें, Creative Writing etc प्रकाशन: रचनाएँ... Read more
Recommended Posts
जानते है
मुहब्बत को जताना जानते है तुझे दिल में छिपाना जानते है कभी कहना न मानो बात का तो समय ऐसे सताना जानते है करो जब... Read more
व्यंग्य -कविता
औरों को हँसाना जानते हैं --------------------------------- हम भी बहाने बनाना जानते हैं , पसीने के पानी में हम भी नहाना जानते हैं । कोई और... Read more
ज़िन्दगी
है खूबसूरत ज़िन्दगी, सब जानते यह बात फिर क्यों गँवाते हैं इसे, प्रभु से मिली सौगात जो जान लेता भेद यह, पा जाए फिर वो... Read more
मोहब्बत वो घर है !
तुम मिलो तो एक बार, दिल का हाल जताने के लिये, फ़िर हमें छोड़ किसी और का खयाल दिल मे नहीं आयेगा! …………………. तुम मेरे... Read more