मुक्तक

(1) कहीं कोई रास्ता मिलेगा
जीने का बहाना मिलेगा
जीवन बौनसाई का पेड़ नहीं
मुश्किलों को छोटा कर दे ।

(2) अब क्या सवाल करना
जो मेरा नहीं –
उससे क्या जबाब करना
सच क्या है –
तुझे पता है – मुझे पता है
मैं नहीं कहती – कुछ तो बचा रहे
तु नहीं कहता – तेरी कमीज उजली रहे ।

(3) मौत – मौत में अंतर होता है
शरीर का मरना
सामान्य घटना
संबंधों की मौत
दुर्घटना !
~रश्मि

2 Likes · 4 Comments · 113 Views
जब से लिखना आया तबसे लिखना शुरू की...... पर किसी ने बताया नहीं की लेखन...
You may also like: