छवि सांवली सलोनी लगते हो सबसे प्यारे

छवि सांवली सलोनी, लगते हो सबसे प्यारे
जीवन में रंग भर दो, अब तक हैं हम बेचारे।1।

बेताब दिल की धड़कन, अब ढूंढती सहारे
भवरों में घिर गया हूँ, पतवार है किनारे।2।

अब आ भी जाओ मोहन मेरी आत्मा पुकारे।
आओ हमें संभालो, इक तुम ही हो सहारे।3।

इतना तो प्यार दे दो, तन-मन हो जाएं न्यारे
चार दिन की जिंदगी और, हम भी हों तुम्हारे।4।

हर ओर फिंका-फिंका, हर रस थे खारे-खारे
हर डग पे मैं तो जीता, जबसे हैं तुमपे हारे।5।

-आनंद बिहारी, चंडीगढ़ (16.10.2016)
Whatsapp: 9878115857

5 Comments · 361 Views
गीत-ग़ज़लकार by Passion नाम: आनंद कुमार तिवारी सम्मान: विश्व हिंदी रचनाकार मंच से "काव्यश्री" सम्मान...
You may also like: