छंदमुक्त कविता

ख़ुशबू में आला रातरानी, जूही है,
हमारा ब्लाक, तहसील तमकुही है।

ये जगह बुद्ध के नाम से अमर है,
हमारा जिला तो भई कुशीनगर है।

गोरखधाम, पूर्वांचल का उर है,
हमारा मंडल तो गोरखपुर है।

गंगा का मैदान, आबादी विशेष है,
हमारा प्रदेश तो उत्तर प्रदेश है।

जहां की सादगी ही पहचान है,
हमारा प्यारा देश तो हिन्दुस्तान है।

नूरफातिमा खातून नूरी
कुशीनगर

7 Likes · 6 Comments · 190 Views
नूरफातिमा खातून" नूरी" सहायक अध्यापिका प्राथमिक विद्यालय हाता-3 ब्लाक-तमकुही जिला-कुशीनगर उत्तर प्रदेश पिता का नाम-श्रीअख्तर...
You may also like: