गीत · Reading time: 1 minute

चेहरा नूरानी बातें हैं रुहानी // गीत

तू है प्रितिका, तू है चाँदनी निशा
चंचल मन,हिरनी चाल,निराली अदा
चेहरा नूरानी बातें है रुहानी
तुमसे मेरी दुनिया तुम हो ज़िन्दगानी…

तेरी होठों की लाली गाल गुलाबी
सोलहवां साल कमसीन शोख जवानी
फूलों की रानी खुशियों की रवानी
जुल्फों का बादल तेरी चुनरी धानी

चेहरा नूरानी बातें है रुहानी
तुमसे मेरी दुनिया तुम हो ज़िन्दगानी …

बातें जादूगरी तू थोड़ी बाँवरी
मेरी परी रानी मेरी हो शायरी
कंगना, पायल बजा के पास बुला ले
आ बन जाना तू मेरी राधा रानी

चेहरा नूरानी बातें है रुहानी
तुमसे मेरी दुनिया तुम हो ज़िन्दगानी …

मोरनी सी आंखे सूरज तेरी बिंदियाँ
तेरी याद आती है,आती नहीं है निंदियाँ
सावन आ गया आ जा ना मेरी प्रियतमा
तुमबिन अधूरी हैं मेरी मोहब्बत की कहानी

चेहरा नूरानी बातें हैं रुहानी
तुमसे मेरी दुनिया तुम हो ज़िन्दगानी…
°
°
°
गीतकार :- दुष्यंत कुमार पटेल”चित्रांश”

234 Views
Like
Author
नाम- दुष्यंत कुमार पटेल उपनाम- चित्रांश शिक्षा-बी.सी.ए. ,पी.जी.डी.सी.ए. एम.ए हिंदी साहित्य, आई.एम.एस.आई.डी-सी .एच.एन.ए Pursuing - बी.ए. , एम.सी.ए. लेखन - कविता,गीत,ग़ज़ल,हाइकु, मुक्तक आदि My personal blog visit This link hindisahityalok.blogspot.com
You may also like:
Loading...