चुनाव का महीना,राहुल करे शोर ---आर के रस्तोगी

(“सावन का महीना ,पवन करे शोर” गीत पर आधारित पैरोडी )

चुनाव का महीना,राहुल कर रहा शोर |
कांग्रेस कह रही देश का चोकीदार चोर ||

कैसी चुनावी चल रही है ये पुरवैया |
इकठ्ठे हो गये है नेता और छुटभैया ||
कर रहे है ये सब नंगा नाच |
पर सच पर आयेगी न आंच ||
पर चल रहा नही इनका जोर
इनमे एक अलीबाबा बना है
बाकी है सब चालीस चोर
चुनाव् का महीना …….

अमेठी से भाग रहा राहुल भैया
कौन लगाये उसकी पार नैया
बहना भी जोर लगा रही
उसको वायानाड ले जा रही
चुनाव की घटा है घनघोर
पता नहीं जायेगी किस ओर
सभी नेता लगा रहे है जोर
चुनाव का महीना ……

मोदी तो गये है आज विदेशवा
पता नही क्या लाये रे संदेशवा
गठबंधन की नाव बैठे सब भैया
बन रहे है सभी नेता नाव खिवैया
पता नही ले जायेगे किस ओर
जनता की लहर है किस ओर
पर सबके मन में नाचे है मोर
चुनाव का महीना ……

आर के रस्तोगी
मो 9971006425

Like 1 Comment 1
Views 3

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share
Sahityapedia Publishing