चुनावी दौर के नेता

चुनावी नौटंकी बाजो के लिए गीत
*******************-*
आया है चुनावी मौसम,
सीने से लगा लेंगे
बेशक घर शूद्र का हो,
खाना भी खा लेंगे
आया है चुनावी मौसम ************
वैसे तो नीच हो तुम
सर्वोच्च बना देंगे
अब तो हम घर का तुम्हारा ,
कूड़ा भी उठा लेंगे
आया है चुनावी मौसम *********

गाली भी तुम्हारी हमको
अब प्यारी लगती है
जूते चप्पल मारोगे
हम वो भी खा लेंगे
आया है चुनावी मौसम********
ईमान नहीं हमारा
बेईमान बहुत है हम
दे दे के भाषण तुमको
भाषण में फंसा लेंगे
आया है चुनावी मौसम ************
हिंदू तो नहीं हो तुम
हिंदू भी बना देंगे
सत्ता के लिए हम तुमको
सर पर भी बिठा लेंगे
आया है चुनावी मौसम********
अंबेडकर को नमन करेंगे
संविधान जला देंगे
तुम्हारी मूर्खता को हम
अपनी जीत बना लेंगे
आया है चुनावी मौसम ********
गद्दार है मुस्लिम सारे
अब भाई बना लेंगे
किसान की बेबसी पर
आंसू भी बहा लेंगे
आया है चुनावी मौसम********
औकात तुम्हारी तुमको
हम क्या है दिखा देंगे
सत्ता में जरा आने दो
फिर बदला भी लेंगे
आया है चुनावी मौसम *******ll
***************
बेखौफ शायर …………डॉ नरेश “सागर”
#########
8/4/19 ……………..9897907490

Like Comment 0
Views 6

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share
Sahityapedia Publishing