.
Skip to content

चारो ओर उजाला होगा

कृष्णकांत गुर्जर

कृष्णकांत गुर्जर

गज़ल/गीतिका

February 2, 2017

दीप खुशी के जलते रहेगे,
चारो ओर उजाला होगा|
मेरा भारत प्यारा होगा,
मेरा भारत न्यारा होगा||

हिंदु मुस्लिम सिख ईसाई,
आपस मे सब भाई भाई |
हम सब भारत बेटे,
यही हमारा नारा होगा||

चारो तरफ छायेगी खुशियाँ,
गम का कही न साया होगा|
दीप खुशी के जलते रहेगे,
चारो ओर उजाला होगा||

कृष्णा के जीवन यारो,
खुशियाे का न किनारा होगा|
दीप खुशी के जलते रहेगे,
चारो ओर उजाला होगा||

Author
कृष्णकांत गुर्जर
संप्रति - शिक्षक संचालक G.v.n.school dungriya G.v.n.school Detpone मुकाम-धनोरा487661 तह़- गाडरवारा जिला-नरसिहपुर (म.प्र.) मो.7805060303
Recommended Posts
चाँद सह्न पर आया होगा
होगी आग के दर्या होगा देखो आगे क्या क्या होगा ख़ून रगों में लगा उछलने चाँद सह्न पर आया होगा रस्म हुई हाइल गो फिर... Read more
गांव गांव मे शहर
Raj Vig कविता Feb 12, 2017
गति प्रगति की तेज हो गयी रात दिन चौगुनी हो गयी नयी दिशा की राह मिल गयी पुरानी बातें सब हवा हो गयीं । चंद... Read more
तुम्हारा साथ जब होगा नजारा ही नया होगा
तुम्हारी याद जब आती तो मिल जाती ख़ुशी हमको तुमको पास पायेंगे तो मेरा हाल क्या होगा तुमसे दूर रह करके तुम्हारी याद आती है... Read more
अब तो सहन नही होगा
अब तो सहन नही होगा किए वार पर वार पाक ने हम सहकर मानवता करते पर अब रहम नही होगा अब तो सहन नही होगा।... Read more