Skip to content

चांदनी रात है।

Neelam Sharma

Neelam Sharma

गीत

June 4, 2017

आज चांदनी रात है,
पिया भी साथ हैं।
इठला रही रजनी मन में सहेजे असीम उल्लास हैं।
देखो प्रेमी युगलों का आया, आज मधुमास है।

हो मगन दो मन आनंद में, करते मधुर संवाद हैं
देखो हर दिशा में छाया, बस प्रीति का उन्माद है।

कमल पुष्प सा जीवन खिल रहा।
गहरा तिमिर अवसाद है गल रहा।
अवनि हुलस गीत गुनगुनाती।
निशा भी देखो है मदमाती।

चलो दिल खोल कर रख दें दिल में जो भी बात है
आज चांदनी रात है और पिया भी साथ हैं।

नीलम शर्मा

Author
Neelam Sharma
Recommended Posts
###सुबह का वकत###
सुबह का वकत, जब भोर हो रही मन को मेरे आज झकझोर वो रही वो बीती चांदनी सी रात , आज सुबह का इन्तेजार ,फिर... Read more
ग़ज़ल :-- चाँदनी रात आई है !!
!!! चांदनी रात आई है !!! गज़लकार :- अनुज तिवारी "इंदवार" शोले इश्क के दहकाती चांदनी रात आई है ! प्यार के नग्मे दुहराती चांदनी... Read more
मुक्तक
"प्रिय मिलन" सखि भला किस बिधि सुर को सजाऊँ मैं आज आऐंगे मीत पिया ,मन हीं मन मुस्काऊँ मैं आज । मै कुसुम मृदुल आहत... Read more
इशारा है आशिकी का..!
इशारा है आशिकी का..! आँखों में मुहब्बत की कहानी , दिल में लहरें उम्मीद की धड़कनो में चाहत की रवानी; याद तो हर साँस में... Read more